उदंती.com को आपका सहयोग निरंतर मिल रहा है। कृपया उदंती की रचनाओँ पर अपनी टिप्पणी पोस्ट करके हमें प्रोत्साहित करें। आपकी मौलिक रचनाओं का स्वागत है। धन्यवाद।

Sep 1, 2022

उदंती.com, सितम्बर- 2022

वर्ष- 15, अंक- 1

भाषा की समृद्धि स्वतंत्रता का बीज है।   
 -लोकमान्य तिलक

इस अंक में

अनकहीः  योजनाओं के मकड़जाल में देश - डॉ. रत्ना वर्मा 

हिन्दी दिवसः जब भाषाएँ मरने लगती हैं - डॉ. आशीष अग्रवाल

हिन्दी दिवसः संयुक्त राष्ट्र की भाषा बनी हिन्दी - प्रमोद भार्गव

आधुनिक बोध कथा-9ः पैसा पैसे को खींचता है - सूरज प्रकाश

आलेखः हम अपनी गलतियों से ही सीखते हैं - सीताराम गुप्ता

जीव-जगत्: कबूतर 4 साल तक रास्ता नहीं भूलते - स्रोत फीचर्स

यात्रा-संस्मरणः गढ़ मुक्तेश्वर- गंगा मैया की आरती का अद्भुत नजारा - अंजू खरबंदा

स्वास्थ्यः टाइप-2 डायबिटीज़ - महामारी से लड़ाई - डॉ. डी. बालसुब्रमण्यम

नवगीतः सारे बन्धन भूल गए - रामेश्वर काम्बोज ‘हिमांशु’

कविताः हमें बेखौफ उड़ने दो - डॉ. शिप्रा मिश्रा

चिंतनः जीवन के कुछ पल - साधना मदान

व्यंग्यः आप कौन से अतिथि हैं - राजेंद्र वर्मा

कविताः धरोहर के रूप में - डॉ. लता अग्रवाल

ग़ज़लः रोज बहाने - विज्ञान व्रत

लघुकथाः शबरी के बेर - ज्योति जैन 

लघुकथाएँ: मनीऑर्डर, वह लड़की है, जहरीली घास - खेमकरण सोमन  

किताबेंः स्त्री संघर्ष का जीवंत दस्तावेज़ - भावना सक्सैना

कविताः भूल न पाओगे - डॉ. महिमा श्रीवास्तव

जीवन-शैलीः खुश रहना हो तो प्रकृति के पास जाएँ - समीर उपाध्याय ‘ललित’

जीवन दर्शनः मानव जीवन: एक अनसुलझी पहेली - विजय जोशी

रचनाकारों से ...

उदंती.com एक सामाजिक सांस्कृतिकसाहित्यिक मासिक पत्रिका है। पत्रिका में सम- सामयिक ज्वलंत विषयों के साथ समाजशिक्षापर्यावरणपर्यटनलोक जीवनपर्व- त्योहार जैसे विभिन्न विषयों के प्रकाशन के साथ संस्मरणडायरीयात्रा वृतांतरेखाचित्रकहानीकविताव्यंग्यलघुकथा तथा प्रेरक जैसे अनेक विषयों से सम्बंधित रचनाओं का प्रकाशन किया जाता है।

- पर्वत्योहार अथवा किसी तिथि विशेष से जुड़ी रचनाओं को कृपया एक माह पूर्व ही भेजेंक्योंकि पत्रिका एडवांस में तैयार होती हैं।

- लेखकों को रचना प्राप्ति की सूचना अथवा स्वीकृत- अस्वीकृति की जानकारी दे पाना संभव नहीं है। रचना प्रकाशित होते ही आपको मेल द्वारा या यदि आप उदंती पाठक मंच के वाट्सएप ग्रुप से जुड़े हैंतो आपको सूचना मिल जाएगी।

- आलेख अधिकतम 3000 शब्द,  कहानी अधिकतम 2500 शब्दव्यंग्य- अधिकतम 1500 शब्द।

- कवितागीतग़ज़ल  केवल चुनिंदाअधिकतम तीन।

- रचना के साथ अपना संक्षिप्त परिचयपताफोटोईमेल आईडी एक ही मेल में प्रेषित करें। कृपया फोटो (वर्ड फाइल में अटैच न करके) जेपीजी फ़ाइल में करें।

- रचनाएँ कृपया यूनिकोड में ही भेजें, कृपया वर्तनी की शुद्धता का ध्यान रखें।

- रचनाएँ udanti.com@gmail.com पर ही भेजें।

9 comments:

Ramesh Kumar Soni said...

एक अच्छे अंक की बधाई।
सभी स्तंभ अपने स्थान पर अपनी गुरुता लिए हुए हैं।

Rashmi Vibha Tripathi said...

साहित्य की सुन्दर विधाओं से सम्पृक्त पठनीय एवं संग्रहणीय अंक।

उदंंती हर बार उत्कृष्ट सामग्री के साथ बहुत ही मनमोहक आवरण ओढ़कर आती है।

हार्दिक बधाई एवं अशेष शुभकामनाएँ आदरणीया रत्ना दीदी को।

सादर

Anonymous said...

आकर्षक आवरण के साथ बहुत सुंदर अंक। सभी रचनाकारों को हार्दिक बधाई।

Anonymous said...

पत्रिका देखने का सुअवसर मिला. मैं इस पत्रिका के लिए नवागंतुक हूँ. लेकिन इसके सुन्दर, सुसज्जित कलेवर को देख मन तृप्त हो गया. मुझे अत्यंत प्रसन्नता हुई.इस पत्रिका से जुड़कर बहुत गौरवान्वित महसूस कर रही हूँ. इस पत्रिका के स्वर्णिम भविष्य के लिए अनेकानेक बधाइयाँ एवं असीम शुभकामनाएँ 🌹🌹🙏🙏

शिवजी श्रीवास्तव said...

एक और सुंदर अंक हेतु बधाई।

Anonymous said...

बहुत सार्थक व सटीक चिन्तन।

Anonymous said...

सुंदर नये अंक की हार्दिक बधाई

Krishna said...

सुंदर अंक हेतु हार्दिक बधाई।

Anonymous said...


आकर्षक आवरण के साथ बहुत सुंदर अंक। सभी रचनाकारों को हार्दिक बधाई।सुदर्शन रत्नाकर