August 25, 2011

सरकारी नाई

सरकारी नाई 
सरकारी नाई ने बाल काटते वक्त कपिल सिब्बल से पूछा - साब ये स्वीस बैंक वाला क्या लफड़ा है?
कपिल सिब्बल घबराकर - अबे तू बाल काट रहा है या पूछताछ कर रहा है?
नाई - सॉरी साब ऐसे ही पूछ लिया।
अगले दिन प्रणब मुखर्जी के बाल काटते वक्त पूछा साब ये कालाधन क्या होता है?
प्रणब मुखर्जी घबराकर- तुमने हमसे ये सवाल क्यों पूछा?
नाई- सॉरी साब बस ऐसे ही पूछ लिया।
अगले दिन सीबीआई वाले नाई से- अरे तू बाबा रामदेव का एजेंट है क्या?
नाई- नहीं साब जी।
सीबीआई- क्या तुम अन्ना के एजेंट हो?
नाई- नहीं साब जी।
सीबीआई - तो तुम बाल काटते वक्त नेताओं से फालतू के सवाल क्यों करते हो?
नाई- साब ना जाने क्यों स्वीस बैंक और कालेधन के नाम पर नेताओं के बाल खड़े हो जाते हैं और मुझको बाल काटने में आसानी हो जाती है इसलिए पूछता रहता हूं।

Labels:

0 Comments:

Post a Comment

Subscribe to Post Comments [Atom]

<< Home