April 10, 2011

पिछले दिनों

फ्रांस में बुर्का पहनना अपराध
फ्रांस में 11 अप्रैल 2011 से एक नया कानून बन गया है। जिसके अनुसार किसी भी महिला द्वारा बुर्का पहनना एक दंडनीय अपराध होगा। सार्वजनिक स्थल पर बुर्का पहनने पर 150 यूरो यानी 9,000 रुपये का जुर्माना भरना पड़ेगा। इस कानून के साथ ही फ्रांस, यूरोप का पहला ऐसा देश बन गया है जहां बुर्के पर रोक लगी है। ज्ञात हो कि यूरोप में मुसलमानों की सबसे बड़ी आबादी फ्रांस में है।

महिलाओं ने तोड़ी परम्परा
महाराष्ट्र के कोल्हापुर के प्रसिद्ध महालक्ष्मी मंदिर में 2000 वर्षो की पुरानी परम्परा को तोड़ते हुए महिलाओं ने मंदिर के गर्भ गृह में प्रवेश किया और देवी की पूजा की।
भारतीय जनता पार्टी की महिला मोर्चा की अध्यक्ष नीता केलकर के नेतृत्व में महिलाओं ने मंदिर में दाखिल होकर देवी अम्बाबाई की पूजा अर्चना की। अब तक महिलाओं को पूजा के लिए मंदिर के एक निर्धारित स्थान तक जाने की अनुमति थी। यह पाबंदी केवल आम घरों की महिलाओं पर लागू थी जबकि शाही परिवारों और लोकप्रिय महिला हस्तियों और पुजारी की पत्नियों के ऊपर यह प्रतिबंध लागू नहीं था!

यूं ली जम्हाई कि खुला ही रह गया मुंह!
ब्रिटेन में 17 साल की एक छात्रा होली थॉम्पसन ने जम्हाई लेते समय अपना मुंह इतना ज्यादा खोल लिया कि फिर वह बंद नहीं हो सका। होली कक्षा में पढ़ते समय इतनी ऊब गई कि उसने बहुत ताकत लगाकर जम्हाई ली, इससे उसका मुंह खुला का खुला रह गया। जम्हाई लेने से उसके जबड़े अपने स्थान पर हट गए। और उसे डॉक्टर के पास इलाज के लिए जाना पड़ा।

Labels:

0 Comments:

Post a Comment

Subscribe to Post Comments [Atom]

<< Home