January 31, 2012

दुनिया की सबसे छोटी महिला

नागपुर निवासी ज्योति अमगे 62.8 सेंटीमीटर यानी 24.7 इंच की ऊंचाई के साथ दुनिया की सबसे छोटी महिला घोषित की गई हैं। ज्योति की जिंदगी में अठारहवीं सालगिरह एक खास मायने लेकर आई है। उनका बरसों पुराना सपना पूरा हो रहा है और वे गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकॉर्ड्स में शामिल हो रही हैं। ज्योति अमगे जैसे ही अठारह बरस की हुईं गिनीज बुक ने उनका कद नापा और उनके जन्मदिन की बधाई देते हुए उन्हें विश्व की सबसे छोटे कद की महिला का खिताब दे दिया। लिमका बुक ऑफ रिकॉर्ड्स ने ज्योति को पहले ही दुनिया की सबसे छोटी महिला के खिताब से नवाजा था।
गिनीज बुक की टीम आने से पहले ही ज्योति के घर में खुशियों का माहौल छा गया था। वे सज-संवर कर तैयार बैठी थीं, एक इतिहास रचने के लिए। गिनीज बुक निर्णायक रॉब मलॉय और वॉकहार्ट के डॉक्टर मनोज पहुकर ने उसका कद नापा और घोषित किया कि ज्योति अमगे दुनिया की सबसे छोटे कद की महिला हैं, तो उनकी आंखों से आंसुओं की धार बह निकली। वो खुद को दुनिया की सबसे छोटी महिला के साथ सबसे खुश महिला भी महसूस कर रही थीं।

घूस मांगी तो, सपेरे ने छोड़ दिए सांप!
उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले के तहसील दफ्तर में उस समय हड़कंप मच गया जब नाराज, घूसखोरी से परेशान एक सपेरे ने सरकारी बाबुओं की नींद उड़ा दी उनके दफ्तर में 20 सांप छोड़ करके। सपेरे ने अपने सांपों को रखने के लिए सरकार से जमीन मांगी थी लेकिन जमीन आबंटन होने के बाद भी सरकारी बाबू उससे घूस मांग रहे थे। गुस्साए सपेरे ने सरकारी कार्यालय में एक साथ कई सांप छोड़ दिये। दफ्तर के कर्मचारियों ने किसी तरह कुर्सी-मेज पर चढ़कर जान बचाई। बाद में एसडीएम ने हक्कुलु नाम के इस सपेरे को जल्द ही जमीन आवंटित करने का आदेश दिया सात ही सांप छोडऩे पर उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की।

Labels:

0 Comments:

Post a Comment

Subscribe to Post Comments [Atom]

<< Home