February 25, 2009

इस अंक के रचनाकार

परदेशीराम वर्मा
जन्म तिथि - 18 जुलाई 1947 भिलाई इस्पात संयंत्र के करीबी गांव लिमतरा में। प्रमुख कृतियां -हिन्दी एवं छत्तीसगढ़ी में तीन उपन्यास, चार कथा संग्रह, आठ संस्मरण तथा नाटक और जीवनी प्रकाशित। सम्मान- अंतर्राष्ट्रीय ख्याति के पंथी नर्तक स्व. देवदास बंजारे पर केंद्रित पुस्तक 'आरुग फूल' को मध्यप्रदेश शासन का माधवराव सप्रे सम्मान । 2003 में पं. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय, रायपुर द्वारा मानद् डी. लिट् की उपाधि। असम राइफल्स, भारतीय डाक तार विभाग, डीएमसी तथा भिलाई इस्पात संयंत्र में सेवा के बाद 2002 में स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति लेकर स्वतंत्र लेखन। संप्रति- दुर्ग जिला जनवादी लेखक संघ 'अगासदिया' के अध्यक्ष। पता- एलआईजी, 18, आमदीनगर, भिलाई-490009, (छ.ग.)
फोन- 0788-2242217.
उमेश चतुर्वेदी
कार्य-सात साल दैनिक भास्कर के पोलिटिकल ब्यूरो में रिपोर्टिंग के बाद इंडिया टीवी के लांचिग टीम के सदस्य रहे। तीन साल जी न्यूज में सीनियर प्रोड्यूसर के तौर पर काम किया। रूचि- साहित्यिक वैचारिक और राजनीतिक विषयों की किताबें पढऩा संप्रति- वर्तमान में सकाल टीवी में डिपुटी एक्सक्यूटिव प्रोड्यूसर के रुप में कार्यरत।
पता- द्वारा जयप्रकाश, एफ-23 ए, निकट शिवमंदिर,
दूसरा तल, कटवारिया सराय, नई दिल्ली-110016.
email- uchaturvedi@gmail.com
अखतर अली
जन्म तिथि - 14 अप्रेल 1960 शिक्षा - बी. कॉम, मूलत: नाटककार, निरंतर व्यग्य लेखन जारी। देश भर की पत्र पत्रिकाओं में अनेकों रचनाए प्रकाशित। हबीब तनवीर, कार्तिक अवस्थी, सलीम आरिफ, जेराडीन बोन से रंगमंच का प्रशिक्षण। नाटय स्पर्धाओं एव सम्मेलनों में शिरकत। प्रमुख नाटक- किस्सा कल्पनापुर का, नंगी सरकार, विचित्रलोक की सत्यकथा, खुल्म खुल्ला, निकले थे मांगने, नाटक की आड में, खदान दान, अमंचित नाटक प्रस्तुति। इसके अतिरिक्त प्रमुख नाटय रूपांतरण -किस्सा नागफनी ; बाकी सब खैरियत है; टोपी शुक; असमंजस बाबू की आत्मकथा। संप्रति - क्वाटिली फाउन्ड्री इन्डस्ट्रीज में कार्यरत । पता - अखतर अली, फजली अर्पाटमेंट, आमानाका, रायपुर.
मो०- 09826126781, email- akhterspritwala.co.in
रश्मि वर्मा
जन्म तिथि - 24 नवम्बर 1968 रायपुर
शिक्षा - एमए, एम फिल (मनोविज्ञान) गाइडेंस एंड काउंसलिंग में डिप्लोमा कार्य- मनोवैज्ञानिक सलाहकार रूचि- सामाजिक और साहित्यक किताबें पढऩा, पर्यटन स्थलों का भ्रमण संप्रति- उदंती.com में व्यापारिक प्रतिनिधि पता- 60/2 नेहरू नगर (ईस्ट), भिलाई (छत्तीसगढ़)
मो. 09826950466
त्रिभुवन पाण्डेय
जन्म तिथि- 21 नवम्बर 1938 धमतरी में प्रमुख कृतियां- भगवान विष्णु की भारत यात्रा (व्यंग्य उपन्यास), पम्पापुर की कथा, ब्यूटी पार्लर में भालू (व्यंग्य संग्रह), झूठ जैसा सच (लघु उपन्यास), पंछी मत हंसो (हास्य व्यंग्य एकांकी संग्रह) सुनो सूत्रधार (गीत संग्रह) महाकवि तुलसी (जीवनी) मोर्चा फीचर में व्यंग्य प्रकाशित, भारत की जनपदीय कविता के छत्तीसगढ़ खंड का संपादन। सम्मान- छत्तीसगढ़ हिन्दी साहित्य सम्मेलन, रायपुर, स्मृति नारायण लाल परमार सम्मान-2005, साहित्य संगीत सांस्कृतिक मंच, मुजगहन।
पता -सोरिद नगर, धमतरी - 493773 फोन 232815।
राजेश अग्रवाल
जन्म तिथि - जन्म - 1965, छतौना(मुंगेली) के एक कृषक परिवार में शिक्षा- बीए एलएलबी। कार्य- सम्पादक के नाम चिट्ठी लिखते-लिखते अंशकालिक संवाददाता बना। लोकस्वर, नवभारत, देशबंधु, दैनिक भास्कर आदि अख़बारों में रिपोर्टर से लेकर न्यूज़ एडीटर तक कार्य। सम्मान- जशपुर की लड़कियों की ट्रैफेकिंग पर की गई रिपोर्टिंग पर पत्रकार उदयन शर्मा स्मृति राष्ट्रीय अवार्ड से सम्मानित। संप्रति- राजस्थान पत्रिका समूह के दैनिक 'पत्रिका' भोपाल के लिये छत्तीसगढ़ का ब्यूरो प्रभारी। कभी-कभी छत्तीसगढ़ी में कविताएं और यहां की संस्कृति से जुड़ी अनोखी बातों को लिख लेता हूं? एक अनियमित प्रविष्टि वाला ब्लाग
Sarokaar.blogspot.com भी वेब पर है। पता- 15, पत्रकार कालोनी, रिंग रोड नं 2, बिलासपुर (छ. ग.) मो.098263 67433
संजीव खुदशाह
जन्म- 12 फरवरी 1973 बिलासपुर में शिक्षा-बीकाम, डीबीएमएस, एमए ( समाजशास्त्र) एलएलबी कृतिया - सफाई कामगार समुदाय, आधुनिक भारत में पिछड़ा वर्ग, लेख, कहानी एवं कविताएं विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में प्रकाशित, राज्य संसाधन केंद्र (सतत शिक्षा अभियान) द्वारा हमारा पर्यावरण का प्रकाशन उपलब्धि- क्राप कटींग एक्सपेरीमेंट साफ्टवेयर का निर्माण जो छत्तीसगढ़ के जिला कार्यालयों में संचालित है, सफाई कामगार समुदाय पुस्तक को साहित्य का तेजस्विनी सम्मान तथा भारत में भंगी का अध्ययन हेतु वाशिंगटन यूनिर्वसिटी लाइब्रेरी में शामिल। संप्रति - राजस्व विभाग में प्रभारी सहायक प्रोग्रामर पता- 39/350 गणेश नगर, भवानी टेन्ट हाउस के पीछे बिलासपुर (छत्तीसगढ़)495004
http://sanjeevkhudshah.webs.com/index.html,

0 Comments:

लेखकों से अनुरोध...

उदंती.com एक सामाजिक- सांस्कृतिक वेब पत्रिका है। पत्रिका में सम- सामयिक मुद्दों के साथ पर्यावरण को बचाने तथा पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए उठाए जाने वाले कदमों को प्राथमिकता से प्रकाशित किया जाता है। समाजिक जन जागरण के विभिन्न मुद्दों को शामिल करने के साथ ऐतिहासिक सांस्कृतिक धरोहर से जुड़े लेखों और साहित्य की विभिन्न विधाओं जैसे कहानी, कविता, गीत, गजल, व्यंग्य, निबंध, लघुकथाएं और संस्मरण आदि का भी समावेश किया गया है। उपर्युक्त सभी विषयों पर मौलिक अप्रकाशित रचनाओं का स्वागत है। आप अपनी रचनाएँ Email-udanti.com@gmail.comपर प्रेषित करें।

माटी समाज सेवी संस्था का अभिनव प्रयास
एक बच्चे की जिम्मेदारी आप भी लें...
माटी समाज सेवी संस्था, समाज के विभिन्न जागरुकता अभियान के क्षेत्र में काम करती रही है। पिछले वर्षों में संस्था ने समाज से जुड़े विभिन्न विषयों जैसे शिक्षा, स्वास्थ्य,पर्यावरण, प्रदूषण आदि क्षेत्रों में काम करते हुए जागरुकता लाने का प्रयास किया है। इसी कड़ी में गत कई वर्षों से यह संस्था बस्तर के जरुरतमंद बच्चों की शिक्षा के लिए धन एकत्रित करने का अभिनव प्रयास कर रही है।
बस्तर कोण्डागाँव जिले के कुम्हारपारा ग्राम में बरसों से कारीगर आदिवासियों के बीच काम रही “साथी समाज सेवी संस्था” द्वारा संचालित स्कूल “साथी राऊंड टेबल गुरूकुल” में ऐसे आदिवासी बच्चों को शिक्षा दी जाती है जिनके माता-पिता उन्हें पढ़ाने में असमर्थ होते हैं। प्रति वर्ष एक बच्चे की शिक्षा में लगभग चार हजार रुपए तक खर्च आता है। शिक्षा सबको मिले इस विचार से सहमत अनेक लोग पिछले कई सालों से माटी संस्था के माध्यम से “साथी राऊंड टेबल गुरूकुल” के बच्चों की शिक्षा की जिम्मेदारी लेते आ रहे हैं। पिछले कई वर्षों से माटी समाज सेवी संस्था उक्त स्कूल के लगभग 15 से 20 बच्चों के लिए शिक्षा शुल्क एकत्रित कर रही है। अनुदान देने वालों में शामिल हैं- प्रियंका-गगन सयाल, लंदन मैनचेस्टर, डॉ. प्रतिमा-अशोक चंद्राकर रायपुर, तरुण खिचरिया, दुर्ग (पत्नी श्रीमती कुमुदिनी खिचरिया की स्मृति में), श्री राजेश चंद्रवंशी (पिता श्री अनुज चंद्रवंशी की स्मृति में), क्षितिज चंद्रवंशी (पिता श्री राकेश चंद्रवंशी की स्मृति में)। अरुणा-नरेन्द्र तिवारी रायपुर, पी. एस. राठौर- अहमदाबाद। इस मुहिम में नए युवा सदस्य जुड़ें हैं- आयुश चंद्रवंशी रायपुर, जिन्होंने अपने पहले वेतन से एक बच्चे की शिक्षा की जिम्मेदारी उठायी है, जो स्वागतेय पहल है। इस प्रयास में यदि आप भी शामिल होना चाहते हैं तो आपका तहे दिल से स्वागत है। आपके इस अल्प सहयोग से एक बच्चा शिक्षित होकर राष्ट्र की मुख्य धारा में शामिल तो होगा ही साथ ही देश के विकास में भागीदार भी बनेगा। तो आइए देश को शिक्षित बनाने में एक कदम हम भी बढ़ाएँ। सम्पर्क- माटी समाज सेवी संस्था, पंडरी, रायपुर (छग) 492 004, मोबा.94255 24044, Email- drvermar@gmail.com

उदंती.com तकनीकि सहयोग - संजीव तिवारी

टैम्‍पलैट - आशीष