April 20, 2017

प्रेरक

    कुछ बेहतरीन लाइफ़-हैक आप सबके लिए  
0 किसी भी लेटेस्ट गैजेट, बाइक या कार को मार्केट में आते ही फौरन मत खरीदिए। ऐसे बहुत से प्रोडक्ट हैंजो बहुत धूम-धाम से लांच होते हैं लेकिन लोगों को पसंद नहीं आते; क्योंकि वे उम्मीदों पर खरे नहीं उतरते। गाडिय़ों के कई मॉडल फेल हो जाते हैं। कई लेटेस्ट मोबाइल्स भी शुरुआत में लोगों को बहुत दिक्कतें देते हैं। मार्केट में नया प्रोडक्ट आते ही कम-से-कम तीन महीने इन्तज़ार कीजिए। एक्सपर्ट रिव्यूज़ पढि़ए और उन लोगों से बात कीजिए, जो इन्हें इस्तेमाल कर रहे हैं। इसके साथ ही यदि आप थोड़ा ठहरकर इन्हें खरीदेंगे, तो उनपर अच्छी डील और डिस्काउंट भी मिलेगा।
0 आप किसी नई नौकरी को ज्वाइन करेंतो नए ऑफिस में चल रही गलतियों और किए जा सकने वाले सुधारों की बातें तुरंत ही नहीं करने लगें। कुछ दिन शांत रहकर अपने सहकर्मियों और वहाँ के माहौल को समझने का प्रयास करें। नए लोगों के बीच स्वयं को स्थापित करें और उनका भरोसा जीतें। इसके बाद यदि आप उन्हें कोई कुछ सुझाएँगेतो वे आपकी बातों को अन्यथा नहीं लेंगे।
0 किसी फिक्स प्राइस स्टोर या मॉल में भी सेल्समेन से कुछ डिस्काउंट माँगें। बहुत सम्भव है कि आपको कोई डिस्काउंट नहीं मिलेलेकिन इससे आपको भीतर आत्मविश्वास बढ़ेगा। और क्या पता आपको वाकई कुछ डिस्काउंट मिल जाए!
0 आपका बॉस या आपका कोई कलीग किसी मीटिंग या प्रेज़ेंटेशन में सराहनीय बात करे,  तो ताली बजाकर उनकी प्रशंसा करें। उन्हें यह देखकर बहुत अच्छा लगेगा। हर व्यक्ति यह चाहता है कि लोग उसकी सराहना करें। मीटिंग या सेमिनार वगैरह में कई बार लोग भीतर-ही-भीतर डर रहे होते हैं। यदि वे आपको अपने पक्ष में पाएँगे,  तो आप दोनों के सम्बम्ध मजबूत बनेंगे।
0 किसी टीनेजर या अपने से छोटे व्यक्ति को सलाह देते समय अपने जीवन के प्रसंगों का उल्लेख कर यह बताएँ कि आपने भी जीवन में कई गलतियाँ कीं, गलत चुनाव किए और गलत निर्णय लिये। उन्हें यह बताइए कि आपको इस सबसे क्या-क्या नुकसान हुए और आप यह क्यों नहीं चाहते कि उसे भी उन बातों का सामना करना पड़े।
0 आपको किसी महत्त्वपूर्ण व्यक्ति से कोई खास काम या बिजनेस हो और वह व्यक्ति आपको कहीं राह चलते या किसी मार्केट/जिम/मॉल/लिफ़्ट में मिल जाए, तो उस काम का ज़िक्र मत कीजिए। उससे सामान्य शिष्टाचार के नाते अभिवादन और बात कीजिए। वे इस बात की कद्र करेंगे और आपका काम बाद में सफलतापूर्वक हो जाने की संभावना बढ़ जाएगी।
0 किसी भी व्यक्ति से या उसके सामने किसी दूसरे व्यक्ति की बुराई मत कीजिए। सुननेवाला व्यक्ति अपने अवचेतन में उन नकारात्मक बातों को आपपर आरोपित करके आपकी बुरी छवि गढ़ लेगा। उसके मन में यह बात बैठ जाएगी कि आप इसी तरह किसी दूसरे का सामने उसकी बुराई कर सकते हैं। hindizen.com

Labels:

0 Comments:

Post a Comment

Subscribe to Post Comments [Atom]

<< Home