April 13, 2013

उदंती.com-अप्रैल 2013

उदंतीः अप्रैल 2013
शांति से बढ़कर कोई तप नहीं, संतोष से बढकर कोई सुख नहीं,
तृष्णा से बढ़कर कोई व्याधि नहीं और दया के समान कोई धर्म नहीं
               - चाणक्य
 



अनकही: जल संकट की आहट..                 -डॉ. रत्ना वर्मा

Labels:

0 Comments:

Post a Comment

Subscribe to Post Comments [Atom]

<< Home