February 12, 2019

कैसे करें स्वागत प्रिय बसन्त

कैसे करें स्वागत
प्रिय बसन्त।
डॉ. शिवजी श्रीवास्तव

1
मातुशारदे
लोक प्रज्ञावान हो
यही वर दे।
2
धुंध ही धुंध
कैसे करें स्वागत
प्रिय बसन्त।
3
लता नवेली
तरु तन लिपटी
आया बसन्त।
4
कली हँस दी
एक भौंरा उड़ा है
होंठ से छूके।
5
आम बौराया
फागुनी बयार ने
चूमा है उसे।


Labels: , ,

0 Comments:

Post a Comment

Subscribe to Post Comments [Atom]

<< Home