August 18, 2018

कूँची बन रंग भरना है

कूँची बन रंग भरना है
-सारिका भूषण
उम्मीदों की दुनिया में
दूर ...बहुत दूर
जाना है
छोटे - छोटे पँखों से
ऊँची ....बहुत ऊँची
उड़ान भरना है
गहराते आकाश में
उगते सूरज -सा
निखरना है
सुनहरे सपनों के
प्रकाश में
उज्ज्वल भविष्य
गढ़ना है
फैलते तिमिर को
दृढ़ता के बाणों से
भेदना है
अनंत सागर की
गहराइयों में
आशाओं के
गोते लेना है
अब आओ !
जीवन के ऐसे ही
दृश्य में
कूँची बनकर हमें
रंग भरना है।
सम्पर्कः C/258 , रोड-1Cअशोक नगर, राँची- 834002, झारखंड, मोबाइल- 8709310230, 9334717449, E-mail- bhushan.sarika@gmail.com

Labels: ,

0 Comments:

Post a Comment

Subscribe to Post Comments [Atom]

<< Home