October 06, 2020

उदंती.com, अक्टूबर 2020


वर्ष- 13, अंक -2

बोली एक अनमोल है, जो कोई बोलै जानि।
हिये तराजू तौलि के, तब मुख बाहर आनि।। 
-कबीर दास



8 Comments:

प्रीति अग्रवाल said...

आदरणीया रत्ना वर्ना जी, आदरणीय काम्बोज भाई साहब, एवम उदन्ती की समस्त टीम को मेरी ओर से एक और सफल अंक प्रकाशन हेतु बहुत बहुत बधाई!...हमेशा की तरह, पढ़ने योग्य उत्तम सामग्री प्राप्त हुई!!
इस सुन्दर मंच पर मेरी कविताओं को स्थान देने के लिए आपका बहुत बहुत आभार, आपका प्रोत्साहन मेरी लेखनी को बल देता है!!

Unknown said...

आदरणीय डॉ रत्ना वर्मा मैम पत्रिका प्राप्त करने हेतु जानकारी देने की कृपा करें। आप का प्रयास बहुत सराहनीय है। नेट पर पत्रिका देखी अच्छा कलेवर और जानकारियों के साथ अच्छा कार्य कर रही हैं।
डॉ अरुण कुमार वर्मा 9754128757

रत्ना वर्मा said...

वेब पत्रिका आपके सामने है वर्मा जी... 2008 अगस्त से आरम्भ इस वेब पत्रिका का अवलोकन आप कर सकते हैं।
आपने मेरे कार्य की सराहना की आभारी हूँ। आपका बहुत बहुत धन्यावाद।

रत्ना वर्मा said...

आपका बहुत बहुत आभार और शुक्रिया प्रीति जी

साधना मदान said...

आदरणीय डाक्टर रत्ना वर्मा जी.....वेब पत्रिका में मुझे (साधना मदान)को शामिल करने के लिए बहुत-बहुत शुक्रिया। पत्रिका के कलेवर में झांकने पर फिर से कहानी, कविता और लेख एक साथ पढ़ने की चाह जाग उठी है। आपको व उदंती की संपूर्ण टीम को मेरी ओर से बधाई व धन्यवाद।

विजय जोशी said...

अंग्रेजी में कहूं तो आप one person army हैं साहित्य जगत की दो दशक से साहित्य सेवा समर्पित। सो हार्दिक बधाई एवं आभार

प्रगति गुप्ता said...

आप बहुत अच्छा काम कर रही है रत्ना जी...उदंती पत्रिका का हर कॉलम अपने आप में बहुत उत्कृष्ट है। सामग्री चयन करते में जिन बातों का ध्यान रखना चाहिए आप पूरी तरह रखते हो।यही पत्रिका को नए आयाम देता है व भविष्य में शिखर पर पहुंचता है। पत्रिका के लिए मेरी हार्दिक शुभकामनाएं
प्रगति गुप्ता

Jyotsana pradeep said...

आदरणीया रत्ना वर्मा जी,आदरणीय हिमांशु एवँ उदन्ती से जुड़े सभी लोगों को इतने सुन्दर अंक के लिए हार्दिक बधाई !!पत्रिका का सुन्दर कलेवर और उस पर जगमगाता भीतरी सौंदर्य...हमेशा की तरह लाजवाब !!पत्रिका में कविताएँ, आलेख,व्यंग्य,कहानी,हाइकु,क्षणिकाएँ,सभी बहुत बढ़िया !ढेरों शुभकामनाओं के साथ !!
ज्योत्स्ना प्रदीप
जालंधर (पंजाब )

एक बच्चे की जिम्मेदारी आप भी लें

अभिनव प्रयास- माटी समाज सेवी संस्था, जागरुकता अभियान के क्षेत्र में काम करती रही है। इसी कड़ी में गत कई वर्षों से यह संस्था बस्तर के जरुरतमंद बच्चों की शिक्षा के लिए धन एकत्रित करने का अभिनव प्रयास कर रही है। बस्तर कोण्डागाँव जिले के कुम्हारपारा ग्राम में बरसों से आदिवासियों के बीच काम रही 'साथी समाज सेवी संस्था' द्वारा संचालित स्कूल 'साथी राऊंड टेबल गुरूकुल' में ऐसे आदिवासी बच्चों को शिक्षा दी जाती है जिनके माता-पिता उन्हें पढ़ाने में असमर्थ होते हैं। इस स्कूल में पढऩे वाले बच्चों को आधुनिक तकनीकी शिक्षा के साथ-साथ परंपरागत कारीगरी की नि:शुल्क शिक्षा भी दी जाती है। प्रति वर्ष एक बच्चे की शिक्षा में लगभग चार हजार रुपये तक खर्च आता है। शिक्षा सबको मिले इस विचार से सहमत अनेक जागरुक सदस्य पिछले कई सालों से माटी समाज सेवी संस्था के माध्यम से 'साथी राऊंड टेबल गुरूकुल' के बच्चों की शिक्षा की जिम्मेदारी लेते आ रहे हैं। प्रसन्नता की बात है कि नये साल से एक और सदस्य हमारे परिवार में शामिल हो गए हैं- रामेश्वर काम्बोज 'हिमांशु' नई दिल्ली, नोएडा से। पिछले कई वर्षों से अनुदान देने वाले अन्य सदस्यों के नाम हैं- प्रियंका-गगन सयाल, मेनचेस्टर (यू.के.), डॉ. प्रतिमा-अशोक चंद्राकर रायपुर, सुमन-शिवकुमार परगनिहा, रायपुर, अरुणा-नरेन्द्र तिवारी रायपुर, डॉ. रत्ना वर्मा रायपुर, राजेश चंद्रवंशी, रायपुर (पिता श्री अनुज चंद्रवंशी की स्मृति में), क्षितिज चंद्रवंशी, बैंगलोर (पिता श्री राकेश चंद्रवंशी की स्मृति में)। इस प्रयास में यदि आप भी शामिल होना चाहते हैं तो आपका तहे दिल से स्वागत है। आपके इस अल्प सहयोग से एक बच्चा शिक्षित होकर राष्ट्र की मुख्य धारा में शामिल तो होगा ही साथ ही देश के विकास में भागीदार भी बनेगा। तो आइए देश को शिक्षित बनाने में एक कदम हम भी बढ़ाएँ। सम्पर्क- माटी समाज सेवी संस्था, रायपुर (छ. ग.) 492 004, मोबा. 94255 24044, Email- drvermar@gmail.com

-0-

लेखकों सेः उदंती.com एक सामाजिक- सांस्कृतिक वेब पत्रिका है। पत्रिका में सम- सामयिक लेखों के साथ पर्यावरण, पर्यटन, लोक संस्कृति, ऐतिहासिक- सांस्कृतिक धरोहर से जुड़े लेखों और साहित्य की विभिन्न विधाओं जैसे कहानी, व्यंग्य, लघुकथाएँ, कविता, गीत, ग़ज़ल, यात्रा, संस्मरण आदि का भी समावेश किया गया है। आपकी मौलिक, अप्रकाशित रचनाओं का स्वागत है। रचनाएँ कृपया Email-udanti.com@gmail.com पर प्रेषित करें।

उदंती.com तकनीकि सहयोग - संजीव तिवारी

टैम्‍पलैट - आशीष